Love for me is divine. It is the hunger of our spirit. I am a follower of Platonic veiw. Platonic love is divine and and spiritual. In other words we can call it as Metaphysical love. Love is a heavenly feeling.

प्यार तू तेरी वफा सलामत रहे!

हर दिल पर तेरी बस हुकूमत रहे!

नफ़रत ने तुझको गर्दिशों में धकेल दिया तो क्या;

तेरे बिना कोई रूह पाक नहीं होती!

मनहूसियत की धुंध कभी साफ नहीं होती!

तू ने ही खुदा के बाद ,

दुनिया को सहेजा है।

तू ना होता तो दुनिया में खुदा की भी इबादत न होती।

प्यार तू परवान चढ़े!

हर दिल में तेरी रवागनी रहे!

नफ़रत की आग हर तरफ

चूल्हों से पहले जलती है बस्तियां।

तू नफासत से कंगाल भला।

हुकूमत की दौलत तो

केवल खून चूसती है।

तेरे बगैर खाक है दुनिया

चिंता की ज्वाला में धधकती आग है।

सुकून तो केवल तुझ से मिला

खुदा भी तुझ पर फिदा है।

प्यार तू तेरी वफा सलामत रहे!


Advertisements

10 Comments »

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s